0
Mahalaxmi Mandir महालक्ष्मी मंदिर
Mahalaxmi Mandir महालक्ष्मी मंदिर

इंदौर के ह्रदय स्थल राजवाडा के पास में प्राचीन महालक्ष्मी मंदिर स्थित है |  सन 1832 में इस मंदिर का निर्माण मल्हारराव (द्वितीय) ने करा...

Read more »

0
Nahar Shah Wali Dargah नाहर शाह वली दरगाह
Nahar Shah Wali Dargah नाहर शाह वली दरगाह

जब हम खजराना जाते है तो वहा हमें खजराना के पहले चौराहे पर एक मूर्ति दिखाई देती है जो की सहस्त्रअर्जुन की है हा आप उनकी तस्वीर भी देख सक...

Read more »

0
Gandhi hall गाँधी हॉल
Gandhi hall गाँधी हॉल

गाँधी हाल, इंदौर में रहने वालो के लिए यह एक जाना पहचाना नाम है | गाँधी हाल का वास्तविक नाम किंग एडवर्ड (सप्तम) के नाम पर किंग एडवर्ड हॉल ...

Read more »

0
Malhar rao holkar मल्हार राव होलकर
Malhar rao holkar मल्हार राव होलकर

मल्हार राव होलकर मालवा के प्रथम शासक थे | आप खंडुजी होलकर के पुत्र थे | आपका जन्म १६ मार्च १६९३ को रामनवमी के दिन पुन के पास होलगाव मे...

Read more »

0
मल्हार मार्तंड मंदिर Malhar Martand Mandir
मल्हार मार्तंड मंदिर Malhar Martand Mandir

राजवाडे के पीछे के हिस्से में होलकर वंश के कुल देवता (मल्हारी मार्तंड - शिव ) का मंदिर है | इस मंदिर के भीतर जाने पर होलकर वंश के इतिहास को ...

Read more »

0
Chhatribag ki chhatriya छत्रीबाग की छत्रिया
Chhatribag ki chhatriya छत्रीबाग की छत्रिया

१८ वी शताब्दी के आरम्भ से १९ वी शताब्दी के मध्य यह छत्रिया बने गयी है होलकर राज्य में छतरियो का निर्माण सन १७८० में प्राम्भ हुआ जब अहिल्याबा...

Read more »

0
Krishnapura ki Chhatriya कृष्णपुरा की छत्रियां
Krishnapura ki Chhatriya कृष्णपुरा की छत्रियां

शहर के वैभवशाली इतिहास का प्रतीक है कृष्णपुरा की छत्रियां। करीब 150 वर्ष पुरानी इन छत्रियों में शिवाजीराव महाराज, तुकोजीराव महाराज (द्वितीय)...

Read more »
 
 
Top