0
loading...

इंदौर में अनोखा पहल की गई है. नगर में कोई भूखा न रह जाए इसके लिए फूड एटीएम की शुरुआत हुई है.

मजेदार बात यह है कि यह कोई सरकारी योजना नहीं है, बल्कि स्कूल में पढ़ाई करने वाले 16 से 18 साल के किशोर इसे चला रहे हैं. बच्चों की इन कोशिशों से गरीब और लाचार लोगों को काफी फायदा पहुंच रहा है.

इस फूड बैंक एटीएम को 9 अप्रैल यानी महावीर जयंती के दिन शुरु किया गया. इसके पीछे सोच यह रही कि खाने लायक भोजन को बर्बाद होने से बचाने के लिए उन्हें एक स्थान पर इकट्ठा किया जाए, जिससे कि गरीब लोगों को उसे खिलाया जा सके.
स्कूल में पढ़ने वाले सात बच्चों ने अपने घरों से ही चंदा कर एक फ्रीज लिया और उसे पलासिया में उचित स्थान देखकर रख दिया. यही नहीं, इन बच्चों ने घर-घर जाकर लोगों से बचा हुआ खाना रेफ्रिजरेटर में रखने की गुजारिश की.

इंदौर के पलासिया क्षेत्र में रखा गया है यह 200 लीटर का फ्रीज है. इसमें 25 लोगों का खाना रखा जा सकता है. अब कई लोग यहां बचा हुआ खाना रखने भी आते हैं और गरीब पहुंच कर खाना लेने भी आते हैं. इस योजना की शुरुवात करने वाले हार्दिक कटारिया लोगों के जुड़ने से काफी खुश हैं |






...

Post a Comment

 
Top